China Vs India Economy War : किस तरह से भारत के मैनपावर और बिज़नस को बर्बाद कर रहा है चीन

हम भारतीय को लगता है की हम दुनिया के सबसे चालक लोग है हम हर काम जुगाड़ से कर सकते है. यहाँ तक हम Software भी जुगाड़ से Use करते है. हमे ये लगता है America की सभी बड़ी IT Companies को Indian चला रहे है और हमारे पास दुनिया का सबसे बाद IT रिसोर्स है. आज मैं आपको कुछ ऐसे तथ्य के बारे में बताऊंगा जिससे आपको हमारे असलियत के बारे पता चलेगा की हमें दुनिया किस नज़र से देख रही है और China Vs India Economy War kya hai (क्या है)? कैसे चीन भारत के सभी Business को बर्बाद कर रहा है. कैसे हम भारतीय खुद अपने देश को दिन ब दिन बाद बर्बाद कर रहे है.
China Vs India Economy War

China Vs India Economy War :

हम केवल इस बात से फुले नहीं समाते है की हमारे देश GDP  बहुत तेजी से आगे जा रहा है. लेकिन मैं आपको बता दू India GDP करीब $3 ट्रिलियन है जबकि China GDP करीब $11 ट्रिलियन है. india Top GDP Rank में 6th Position पर है जबकि China 2nd Position पर है. 
China हर साल India में $100 Billion का Export करता है जबकि India $5 Billion का Export China को करता है. आज India में हर 10 लोगो में 7 लोगो के पास China Brand का Mobile Phone होता है. Oppo और Vivo शहर से लेकर गाँव तक हर जगह फ़ैल गए है. हमारे देश में केवल LAVA, Xolo, Intex, Carbonn और Micromax ही देशी Mobile Company है जो की ऐसा Phone बनती है जिन्हें खुद उनके Employee भी नहीं Use करते होगा. 
आज के समय में दुनिया में सबसे ज्यादा मुनाफे IT Business में है और Future में IT Business का ही जमाना है. लेकिन IT Business में India का क्या हाल मैं आपको थोडा विस्तार से बताता हूँ. हमारे देश में Infosys, TCS, Wipro, HCL, Flipkart, Tech mahindra, L&T Infotech, Mindtree, Hexaware ये सबसे मशहूर IT Company लेकिन कोई भी Company अपना खुद का कोई Product नहीं बनती है ये बस IT Manpower Provide करती है Flipkart को छोड़ कर.
हमारे देश में जो भी Computers, Mobile, Software, Web Application use किये जाते है उसमे से ज्यादातर अमेरिकन है और बाकि के Chinies है. जैसे की…
  • Asus, Dell, Apple, Microsoft, Google, Adobe, Facebook, Twitter, Instagram, Linked in, Snapchat, WhatsApp, YouTube, जैसे सभी बड़े IT कम्पनीज़ अमेरिका के है.
  • Lenovo, Xiaomi, Motorola, Oppo, Vivo, Oneplus, Gionee, Huwei, जैसे और भी बहुत से Popular कंपनी चाइना की है. 
China के बारे में आपको जानकर हैरानी होगी, यह IT Field के किसी भी Company को अपने देश में घुसने नहीं देता है और यह दुनिया के हर देश में अपना Business फैला रहा है. चाइना ने लगभग हर एक American कंपनी का Role मॉडल अपने देश में बना लिया है. जैसे की…
  • दुनिया भर में Google Chrome Browser का use किया जाता है लेकिन China में UC Browser use होता है.
  • सारी दुनिया सर्च इंजन के लिए Google Search Engine का use करता है जबकि China अपना खुद का Baidu Search Engine use कर रहा है.
  • दुनिया में 1.75 Billion लोग WhatsApp use करते है लेकिन यह China में Ban और वहा पर लोगो Wechat इस्तेमाल करते है.
  • Amazon.in दुनिया में हर जगह शौपिंग के लिए इस्तेमाल किया जाता है लेकिन चाइना में Alibaba का इस्तेमाल होता है. 
  • Gmail को लगभग हर देश use करता है लेकिन चाइना में QQ का use होता है.
  • Facebook ने बहुत जोर लगया China में घुसने के लिए लेकिन चाइना वाले facebook के वजाय renren का use करते है.
  • जिस Twitter को हम use करके अपने आप को Educated समझते है चाइना वाले उसे पूछते तक नहीं है वो अपने देश में बनाया हुआ weibu use करते है.
  • China के पास YouTube का अपना ही अलग Version निकल दिया Youku.com
China में इतना देश प्रेम है की वह अपने देश के इंडिविजुअल और कॉर्पोरेट को आगे बढ़ने के लिए लोग दुसरे देश के प्रोडक्ट use नहीं करते है और वहा के कॉर्पोरेट के लोग भी इस बात का पूरा ख्याल रखते है और अपने देश के लोगो सबसे पहले सबसे अच्छी चीज़े प्रोविडे करते है.

किस तरह से भारत के मैनपावर और बिज़नस को बर्बाद कर रहा है चीन:

हमारे देश में लोग किसी व्यक्ति के Intelligent Power को उसके language से check किया जाता है. अगर वह hindi बोल रहा है तो वह गावर और नासमझ है, लेकिन अगर वह व्यक्ति English बोल रहा ही तो वह Intelligent और बहुत समझदार है. आपको यह जानकर हैरानी होगी China में  English नहीं बोला जाता है और ना की English पढाया जाता है अगर कोई English सीखना चाहता है तो बस language तौर पर सीख सकता है. यहाँ तक अगर आप China में जाकर इंग्लिश के कुछ word सीखने की कोशिश करते है तो आपको जेल भी हो सकता है.
हमारे देश में जो अच्छे जगह से पढ़े होते वो तो America, England, Germany जैसे देशो में जाकर Job करते है और वही बस जाते है जो कुछ भी उन्हें जानकारी होता है वो वहा के लोगो को बताते है. इसके साथ जो India से बाहर पढ़ने जाते है वो शायाद ही India में फिर कभी वापस आते हो,

हमारे देश में PM नरेन्द्र मोदी जी अमेरिका गए हुए थे, तो वह Indian Student से मिलने किसी college गए वहा पर उन्हें कुछ चाइना के बच्चे भी मिले तो उन्होंने उनसे पुछा की ” आप लोग बताओ पढाई के बाद आपका क्या करने का इरादा है?”  चाइना के स्टूडेंट ने जवाब दिया की एक दो साल जॉब करेंगे उसके बाद जब चीज़े और तकनीक सीख जायेंगे फिर अपने देश जायेंगे और वहा अपना काम शुरू करेंगे और लोगो सीखाएँगे.

हमारे देश के लोग क्या सोचते है देश की कंपनियों के बारे.

ऐसा नहीं है हमारे देश के IT Company में कोई कमी या वह ऐसा कुछ नहीं कर सकती जैसा America और चाइना में हो रहा है. कमी हमारे देश के लोगो में है, हमें स्वदेशी सामान use करने में वो मज़ा नहीं आता है जो विदेशी सामान use करने में आता है.
मैंने बहुत लोगो को Social Media Network जैसे की Facebook, youtube पर ये कहते हुए सुना है मिक्रोमक्स, लावा बर्बाद है Apple, Nokia जैसा phone क्यों नहीं बनाते ये लोग  …. यहाँ तक की लोग मिक्रोमक्स ,लावा, intex use करने में शरमाते है.
अरे भाई जो Apple, iphone चिल्लाते है क्या वह शुरू होते है ऐसे फ़ोन बनाने लगा था, अगर Apple के पुराने फ़ोन देख लोगे दिमाग घूम जायेगा. अगर उस समय उस मोटे से फ़ोन को अमेरिका वाले ये कह के नहीं use करते की यह phone अच्छा नहीं है इससे अच्छा तो मोटोरोला है तो आप Apple iphone नहीं बना रहा होता है.
जब हम देश की कंपनी को सपोर्ट करेंगे उसे आगे बढ़ने का मौका देंगे तभी तो वह आगे अच्छा Product बनाये. मैंने जब से सुना है तब से लोग मिक्रोमक्स या और किसी Indian ब्रांड को पसंद नहीं करते है. इससे यह साफ़ जाहिर होता है लोगो को देश से प्यार नहीं है.
देश के लिए जान देना ही देश प्रेम नहीं होता है देश को पैसे और Power के मामले में मजबूत बनाना भी एक देश प्रेम होता है. आज का आर्टिकल बहुत लम्बा हो जा रहा है मैं आपको आगे ऐसा जरुरी बातों के बारे में बताऊंगा.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.