3 SEO मंत्र : Ultimate SEO Guide In Hindi | Secret SEO Hacks 2020

Search Engine Optimization जिसे आप SEO के नाम जानते है यह एक ऐसा technique है जिससे कुछ Bloggers or SEO professionals  हर महीने लाखों traffic earn लेते है और कुछ हज़ार, दस हज़ार तक नहीं पहुंच पाते है. भले ही आप जानते हो की SEO क्या है? लेकिन आज मैं यहाँ पर कुछ ऐसे Guides और tips के बारे में बताने वाला हूँ जो की एक सीक्रेट है और आप इसे बहुत कम लोग जानते है.

ऐसा क्या Mystery है जिसे हर कोई समझ नहीं पाता?

मैं भी इस पर बहुत re-search किया है और इसके अलग-अलग technique इस्तेमाल करके, website पर change हो रहे है traffic, session , bounce rate, users जैसे matrices को check किया। इनमें से जो SEO technique सबसे ज्यादा useful रहा और जिस पर काम करके मैंने हर महीने 3,00000 से भी ज्यादा organic traffic generate किया –  

इन्हे मैंने नाम दिया है ‘तीन SEO मंत्र‘ जो evergreen technique है और यह आज या आने वाले कल हमेशा के लिए इनका SEO में एक महत्वपूर्ण योगदान होगा.

Traffic report
Techyukti.com trafiic report

किसी भी website को  SERP(Search engine result page) पर पहले page पर लाने के लिए SEO experts और bloggers तरह-तरह के tips का इस्तेमाल करते है – website designing से designing से लेकर meta tag optimization तक.

लेकिन अगर website design भी बेहतर है, meta tag भी लगा हुआ है फिर website पर traffic नहीं आ रहा है या Site पहले page पर rank नहीं रहा है.

तो website के साथ इन तीन SEO मंत्र का इस्तेमाल करे, 90 दिन में result आपके सामने Analytics dashboard पर होगा.

3 SEO मंत्र 1: Keyword

कहने को तो यह 7अक्षर का एक छोटा सा शब्द है लेकिन पूरे search engine की प्रकिया इसी पर टिकी है. बात चाहे Organic search की हो यह paid search की हो हर जगह keyword का खेल है.

Concept:

Keyword, search engine और searcher को बताता है की SERP पर show होने वाला content किस बारे में हैं.

माना के searcher, Google web engine पर search करता है ‘bakery shop near me’ (Keyword) तो उसे गूगल पर ऐसे ही contents (Video, Map direction or Text) देखने को मिलेंगे जिससे वह अपने एरिया के नजदीकी बेकरी शॉप पर जा सके.

keyword concept

Long-tail Keywords:

इंटरनेट पर इसके बहुत से definition मौजूद है जैसे की… Long-tail keywords 3 से 4 phrases (शब्दों) से मिल कर बना होता है.

लेकिन इसके बारे में मेरा concept अलग है,

किसी main keyword या Idea, जो किसी service, product या information के बारे में है, उसमे कुछ ऐसे words add कर देना जो की उस main keywords को service, product या information के बारे में और specific (विशिष्ट) बना दे. इन्हे long-tail keywords कहा जाता है.

माना एक Keyword Pro Kabaddi League जिसपर average monthly search हैं करीब 10,000 (High competitive),  ऐसे में अगर इस को एक नए पेज के साथ optimize किया जाए तो हो सकता है इसमें बहुत समय लगे या फिर आये भी ना.

ऐसे में अगर Pro Kabaddi League को इस तरह से optimize करना है जिससे ranking भी जल्दी मिल सके और business conversion,sales भी. तो इसके लिए, High competitive keyword को और specific बनाना होगा. इसके सभी attribute को बेहतर तरीके से समझाना होगा.

Long-tail Keywords के फायदे :

Bloggers के लिए Keywords ranking और traffic ज़रुरी होता है और एक Business website के लिए conversion, sales ज़रुरी होता है. Long-tail keywords दोनों हो case में best है.

Target Traffic – Bloggers के अपने target audience होते है और business website के अपने target audience होते है. Long-tail keywords सबसे ज्यादा helpful होते हैं. Website पर ज्यादा से ज्यादा target traffic लाने में, ऊपर बताये गए example में ‘Android App development services /company’ keyword को वही searchers, search करेंगे जिनको इस Android app development की services चाहिए.

Easy Optimization – Short-tail (Head) keywords को मुकालबे एक Long-tail keyword को optimize यानि Search engine ranking improve करने में easy होता है. क्योकि long-tail keywords natural होते है और ऐसे terms को ज्यादातर searcher use करते है. जैसे की..

Neet Results – exact keyword को शायद ही कोई search करता हो, naturally searcher ‘How to check NEET result’, ‘Neet results 2020’ जैसे long -terms का इस्तेमाल करते है.

Keywords Research कैसे करे?

एक Blogger या SEO Professional को एक searcher की तरह सोचना होगा – जो भी content idea है उसको real-world से connect करना होगा.

माना एक Blogger के पास content लिखने का Idea है  – PM Kisan Yojana

Blogger अपने content में बताना चाहता है  – what is pm-kisan scheme?

तो Blogger find कर पायेगा? best keywords

[STEP 1] सबसे पहले Blogger एक searcher की तरह behave (व्यवहार) करेगा – सोचेगा की अगर किसी व्यक्ति से PM Kisan Yojana सीखने के बारे में कहा जाए तो उसके दिमाग में कौन-कौन से word आएँगे।

इस तरह का keyword cloud के searcher के दिमाग में आता है जब वह App development से related technology वह सिखाना चाहता है. ऐसे ही एक topic के लिए keyword cloud, एक real-world human के दिमाग में आता है.

जब वह किसी person, things, services, place, situation और information के बारे में कुछ जानना चाहता है. ये सब keywords, एक blogger के लिए valuable raw materials होते है जिन्हें अलग-अलग तरह के research technique और tool के मदद से एक useful shape देता है.

[STEP 2] Keyword research करने के लिए Online बहुत से free tool available है जिसमे से Google Keyword Planner(GKP)  महत्वपूर्ण और free tool, इसके साथ हर एक search engine (जैसे की Google) कुछ अपने search technique होते है जिससे Bloggers के valuable और searcher द्वारा खोजे जाने वाले keywords पा सकते है.

Blogger के पास अब keywords research के 3 major valuable assets है,

  • Main Idea  – ‘ what is pm-kisan scheme? ‘
  • Searcher Question – ‘pm kisan yojana, PM schemes, pm kisan yojana 2020 etc.’
  • Tool – GKP, Google Suggest or कोई भी search tool.

Blogger को अपने Idea से related ऐसे keywords चाहिए जो की आसानी से SERP पर rank हो सके और valuable traffic मिल सके. इसके लिए Blogger Google Keyword Planner (GKP ) tool को open किया है.

Keyword planner

ऊपर Image जो keywords research है उस में से Blogger को कुछ keyword मिल गए, लेकिन अब list में तो हज़ारों keywords है इनमें से उसे select कौन सा करना है ये ज़रुरी बात है.

अब Blogger ने list में ऐसे keywords को mark किया,

  • जिसका competition Low or media है.
  • जिसपर अच्छा खाशा traffic है.

ऊपर image में ‘android app tutorial’ keyword का competition भी low है और इसपर Average monthly search भी 100 -100k हैं.

इसी तरह blogger बाकि searcher queries (जैसे की –  App development tool, tutorial, job, salary, course etc. ) से related keyword को एक-एक करके GKP tool से research किया है जो भी महत्वपूर्ण keywords है. उनको एक जगह save कर लिया है.

Example  – Learn Android app development

keyword competition

3 SEO मंत्र 2: Content

Content के मुख्यतः 3 प्रकार होते है.

  1. Text
  2. Image
  3. Video

Internet पर जो कुछ है इन्ही तीनों की वजह से हैं और इसी वजह से कहा जाता है ‘CONTENT IS THE KING’

जो Content Google, Bing जैसे web browser पर high rank पर आता है वही सबसे best content माना जाता है और उसी को सबसे ज्यादा Traffic मिलता है.

एक Blogger या content writer को ऐसे content लिखने के लिए या बनाने के लिए search engine optimization के guidelines बखूबी समझना होता है.

यहाँ पर मैंने पूरे search engine friendly content structure को कुछ हिस्सों में बाँट दिया है. ताकि एक Blogger या content writer इन्हें बेहतर तरीके से समझ पाए है.

Main Keyword के साथ Content बनाये:

मैंने कुछ ऐसे content बनाये है और ishailesh.org पर publish किये है जो Google पर सबसे Number #1 rank करते है. लेकिन उनसे मुझे कोई traffic नहीं मिलता है.

आप खुद चेक करे,

  • iShailesh Content No.1 – India में बैठ कर USA के लोगो से पैसे कैसे कमाए?
  • iShailesh Content No.1 – Ek News Blog Ko Successful Kaise Banaye
  • iShailesh Content No.1 – Referring Domains Kya Hai?

Article अच्छे है और इसमे जानकारी भी अच्छी है और Rank भी पहले पर कर रहे है. लेकिन इन articles में ऐसा main topic नहीं है जो searcher internet search करते है. ऐसे में यह कभी उन तक पहुच नहीं पाता है.  ऐसा Content लिखने का कोई फायदा नहीं है.

Blogger को ऐसा Main idea choose करना चाहिए जिस पर internet browser पर traffic हो इसके लिए profitable keywords research tool का उपयोग करे प्रयोग करे.

Readable content बनाये:

SEO readability किसी भी search engine के लिए बहुत मायने रखता है और SERP पर top आने के लिए अहम् role अदा करता है.

Content Readability का मतलब होता है – एक ऐसा content जिसे एक बार searcher result page पर click करके पढ़ना शुरू करे तो पढ़ते समय उसका flow ना टूटे, वह कही पर ऊबे(bore) ना और वह page पर ज्यादा से समय गुजरे, यानि content simple, clear, organize और logic से भरपूर होना चाहिए.

इससे time on site increase होता है, bounce rate decrease होता है और यह एक positive signals होता है search engines के लिए – इस प्रकिया को dwell time के नाम से भी जाना जाता है.

Long-form Content लिखे:

December 2018 से लेकर May 2019 आये Google search engine updates के हिसाब से जो भी content SERP ranking में नीचे गए है या फिर remove कर दिए गए हैं उनमें से ज्यादातर content का size 1000 या उससे कम words का था.

आज के trend के हिसाब से,

  • Content length कम से कम 3000 words का होना चाहिए.
  • जिस topic पर लिख रहे है उसके सभी facts को content के साथ जोड़ना ज़रूरी है.

3 SEO मंत्र 3: Link Building

एक समय था जब Yahoo जैसे search engines केवल content के हिसाब से result show करते थे लेकिन फिर आया Google,

जिसने search result का पूरा game change कर दिया अपने PageRank Algorithm से, यह केवल केवल page पर मौजूद content को नहीं देखता है Google यह check करता है की किसी page से कितने लोग linked है.

चुकी Google सभी search engines को पीछे छोड़कर सबसे आगे निकल गया और इसी वजह से कई सालों तक backlinks search ranking का सबसे effective signal बना रहा, link किसी भी तरह का हो उसे एक ranking factor माना जाता था.

लेकिन April 2012 में सब बदल गया जब update आया Google Penguin का,

Google Penguin, web page link quality को check करता है और जिस page पर bad links मिलते उनको search engine से remove किये जाने लगा और फिर सामने आया

‘High Quality Links’

अगर कोई web page A अपने से किसी high authority web page B or website के साथ connect है. तो page A को मिलेगा एक high quality links.

Wikipedia एक high authority site है, अगर आपका blog इससे connect होगा तो आपको एक high quality backlink मिलेगा.

Link building में Use होने वाले Common Terms:

  • Anchor Text – यह एक clickable text होता है.
  • NoFollow – rel=”nofollow” search engine को बताता है की इस link को consider ना करे.
  • DoFollow – जब कोई normal link बनाया जाता है तो उसे search engine dofollow link की तरह consider करते है और यह SEO के हिसाब से helpful होता है.

Blog के लिए backlinks कई तरीकों से बनाया और earn किया जा सकता है leverage backlink building technique इस समय trend में हैं.

1.Visual Content:

Image, infographics, Graph chart ये सभी visual content होते है और इनसे link बनाना बहुत आसान है. For example अगर आप कोई image, infographics blog पर upload करते है तो उसका एक URL create होता है blog domain के साथ.

https://ishailesh.org/wp-content/uploads/2018/12/infographic-SEO-kya-hai.pngBuilding%2BTactics%2BIn%2B2018.jpg

जब भी उस Image को कोई share करता है या embed करता है तो आपको backlink मिल जाता है.

2.Resource Page:

Resource page किसी website का एक normal page या landing page होता है और यहाँ पर blog का link बहुत आसानी से insert किया जा सकता है.

यह native backlink building के लिए बहुत useful होता है. For example आपको अगर किसी एक field से related website के साथ link बनाना चाहते है Healthcare, cooking इत्यादि.

Resource page पता करने के कुछ तरीके है जिनसे आसानी से इन तक पंहुचा जा सकता है.

किसी Particular Topic (Keyword) से related resource page Find करने के लिए हमें, Link और resource work के साथ अपने Keyword का Use करना होगा.

  • Keyword + “resources”
  • Keyword + “useful resources”
  • Keyword + “helpful resources
  • Keyword + “links”
  • Keyword + “useful links”
  • Keyword + “helpful links

हम INURLऔर INTITLE  Search का use करके अपने Result को और Specific बना सकते है.

  • Keyword + inurl:resources
  • Keyword + intitle:resources
  • Keyword + inurl:links
  • Keyword + intitle:links

ऐसे ही हम Domain Filter का Use करके भी Resource Pages find कर सकते है और Link बना सकते है.

  • site:.org Keyword + “resources”
  • site:.org Keyword + “links”
  • site:.edu Keyword + “resources”
  • site:.edu Keyword + “links”

3.Guest Blogging

यह के पुराना लेकिन important link buildind scheme हैं हालाँकि की paid और exact link post की वजह से इसक प्रभाव कुछ जगहों से कम हुआ है. लेकिन आज भी इसका प्रयोग high-class link earn करने के लिए किया है.

Guest blogging मतलब होता है किसी दुसरे blog पर content publish करना, बहुत से top blogs है जो की guest blog accept करते है और इसके लिए वह link earn करने के मौका देते है.

topic + intitle:”write for us”

इस search technique से Google पर मौजूद उस sites तक पहुच जा सकता है जो की guest blogging accept करते है.

4.Community Site:

Forums, QnA जैसे website community sites कहलाते हैं high quality dofollow link building के लिए बेहतर स्थान है. यहाँ से brand popularity और एक अच्छा backlink मिल सकता है.

कुछ popular forum community sites

Quora, Reddit, small business community, webmaster forum पूरी लिस्ट देखे

Conclusion:

दोस्तों, यह 3 SEO मंत्र हैं जो की Google से organic traffic drive करने के लिए सबसे ज्यादा जरुरी है. मैंने जो experiece किया है यहाँ पर उन्ही technique और SEO factors के बारे में बताया है. कुछ SEO factors iShailesh पर पहले ही बताया जा चुका है आप वहा से check कर सकते है.

Spread the love

5 thoughts on “3 SEO मंत्र : Ultimate SEO Guide In Hindi | Secret SEO Hacks 2020”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Remaining Seconds :